Blogger post me custom redirect kaise kare?

 Hello friends, welcome to our website Rasoteach.com.

आज के पोस्ट में मैं आपको Blogger post में custom redirect करने का तरीका बताने वाली हूं। सबसे पहले हम लोग जान लेते हैं कि custom redirect क्या है।


Custom redirect kya hai

अपने ब्लॉगर के ब्लॉग पोस्ट के एक URL को दूसरे URL के जगह डाल देना यानी replace करना ही Custom redirect कहलाता है।


Custom redirect, Blog post me custom redirect



परंतु ध्यान रहे Custom redirect आप अपने एक ही ब्लॉगर वेबसाइट के पोस्ट के URL को exchange कर सकते हैं ना कि एक blog वेबसाइट के पोस्ट से दूसरे Blog वेबसाइट के पोस्ट से।


Custom redirect,  301 permanent redirect के नाम से भी जाना जाता है। 


 Custom redirect kab kare?

 Custom redirect का उपयोग आप निम्नलिखित परिस्थिति में कर सकते हैं:-


1. जब आप पोस्ट publish करने के बाद permalink बदल देते हैं।


अक्सर ऐसा newly blogger / beginner करते हैं जब उन्हें plagiarism की जानकारी नहीं होती है जब वह कोई पोस्ट को पब्लिश कर देते हैं उसके बाद automatic permalink को Custom permalink में change कर देते हैं या एक पोस्ट के permalink को दूसरे permalink में चेंज कर देते हैं ताकि किसी भी तरह post गूगल में अच्छे रैंक में आ सके।


परंतु कई बार ऐसा होता है कि पुराना permalink गूगल सर्च इंजन में रैंक कर जाता है और नया वाला गूगल में कई बार नहीं आता है और जब यूजर उस पोस्ट के लिंक पर क्लिक करते हैं तो 404 का error आने लगता है जिससे गूगल Seo ऊपर बहुत खराब प्रभाव पड़ता है।


2. जब आपके पोस्ट copyrighted होते हैं तो custom redirect की जरूरत पड़ती है।

कई बार जब newly blogger को प्लेगेरिज्म / copyrighted post के बारे में नहीं पता होता है और पोस्ट को पब्लिश कर देते हैं और बाद में जब उन्हें कॉपीराइटेड पोस्ट को remove करना होता है तो custom redirect की आवश्यकता होती है।

 

👉Pocket FM app me aakir sbke liye kya intersting hai?

👉 Human brain का कार्य एकबार जरूर पढ़े। और जाने किस चीज के लिए क्या जिम्मेदार हैं?



 क्योंकि  copyrighted post को रिमूव करने के बाद अगर कोई भी विजिटर आपके डिलीट किए हुए पोस्ट पर जाते हैं तो 404 का error आता है इसलिए यहां भी custom redirect की आवश्यकता होती है।


3. जब आप किसी पोस्ट को डिलीट करते हैं तो custom redirect की आवश्यकता होती है।

जब आप किसी पोस्ट को डिलीट करते हैं और वह गूगल सर्च इंजन में पोस्ट शो होने लगता है और जब विजिटर उस पोस्ट पर क्लिक करते हैं तो 404 का error आ जाता है। इसे ठीक करने में इसकी आवश्यकता होती है।



4. अगर आपका पोस्ट बहुत पुराना हो जाता है यानी outdated हो जाता है जिसका गूगल पर कोई importance नहीं है उसे भी आप custom redirect  कर सकते हैं।


5. अपने blogger वेबसाइट को वर्डप्रेस में चेंज करने के बाद custom redirect की जरूरत होती है।


दोस्तों, जब आप अपने blogger वेबसाइट को वर्डप्रेस में चेंज करते हैं तो custom redirect की आवश्यकता होती है क्योंकि ब्लॉगर और वर्डप्रेस के permalink में भिन्नता पाई जाती है।


301 redirection


301 redirection को हम permanent redirect कहते हैं क्योंकि इसमें हम old URL को new URL से permanent के लिए बदल देते हैं।


302 redirection


 इसके ठीक विपरीत 302 redirection को temporary redirection कहते हैं जिसमें कुछ समय के लिए ही URL को redirect किया जाता है।


Blogger post me custom redirect kaise kare?


Blogger post में custom redirect करने के लिए आपको नीचे दिए गए सभी steps को फॉलो करना होगा:-

1. ब्लॉगर के डैशबोर्ड को open करें।

ससबसे पहले आपको मोबाइल से या लैपटॉप से ब्लॉगर का डैशबोर्ड open कर लेना है।


 Dashboard open करने के बाद आपको स्क्रीन पर left side में बहुत सारा ऑप्शन मिलेगा जैसे posts, stats, comments, earnings, pages, layout, theme, setting, reading list इत्यादि।

Also read :- What is Nykaa? And how to earn money from Nykaa?


2. उसके बाद settings पर क्लिक करें।


डैशबोर्ड open करने के बाद आपको settings पर क्लिक कर देना है। Settings पर क्लिक करने के बाद आपको स्क्रीन पर basic, title, description, blog language, adult content, Google analytics property ID, fevicon, privacy, publishing, blog addresses, custom domain, fall subdomain, redirect domain, https, https availablity, https redirect, permissions, blog admin and authors, pending author invites,  invite more invites,  post,  comments, email, meta tags, error and redirects, crawlers and indexing, इत्यादि। 


3. अब आपको error and redirects पर क्लिक करना है।

Settings पर क्लिक करने के बाद आपको error and redirects लिखा मिलेगा आपको उस पर क्लिक कर देना है।



4. उसके बाद custom redirect पर क्लिक करना है।

5. फिर From पर क्लिक करना है।

custom redirect पर क्लिक करने के बाद आपको screen पर दो ऑप्शन मिलेगा:-

1. From और

2. To

 From पर क्लिक करने पर आपको जिस पोस्ट का redirect करना है उस पोस्ट का URL copy करके पेस्ट कर देना है।

ध्यान रहे फ्रॉम में जिस पोस्ट का URL डालना है उस पोस्ट का URL copy कर लेना है और / के बाद का यूआरएल रहने देना है और उससे पहले की URL को cancel कर लेना है। 


जैसे :- https://www.rasoteach.com/2021/06/blogger-post-me-custom-redirect-kaise.html


अगर मुझे इस पोस्ट को redirect करना है तो इस पोस्ट के URL से 2021 से कॉपी करेंगे ( यानी / के बाद से)। 

6. To पर क्लिक करें।

From का URL पेस्ट करने के बाद To पर क्लिक करें करने के बाद आपको जिस पोस्ट पर redirect करना है उस पोस्ट का URL copy करके पेस्ट कर देना है।


ठीक इसी तरह To में जिस पोस्ट का URL डालना है उस पोस्ट के URL को copy कर लेना है और / के बाद का URL रहने देना है और उससे पहले के URL को cancel कर लेना है।


 अगर आप होम पेज पर redirect करवाना चाहते हैं तो To में सिर्फ / (slash) ही रहने दे। 

 

जैसे:- 

https://www.rasoteach.com/2021/03/blogger-me-custom-domain-kaise-add-kare.html

अगर मुझे इस पोस्ट पर redirect करवाना है तो इस पोस्ट के URL से 2021 से कॉपी करेंगे (यानी / के बाद से)। 


वैसे मैंने बस example लिया है इसलिए मेरा दोनों पोस्ट गूगल पर है। जैसे मैंने बताया है अगर आप उस तरीके से करेंगे तो आपका 100% redirect हो जाएगा।


7. Permanent को enable कर दें।

URL डालने के बाद आपको स्क्रीन पर Permanent लिखा मिलेगा जो ऑफ होगा उसको enable कर दें।


8. Ok पर क्लिक करें।

और परमानेंट को ऑन कर दें और ok पर क्लिक कर दें। 

अब आप गूगल पर चेक कर सकते हैं कि आपका पोस्ट redirect हुआ है या नहीं। चेक करने के लिए From में डाले गए पोस्ट के URL को जब open करेंगे तो आपने जिस पोस्ट पर redirect कराया है वह पोस्ट open हो जाएगा। 


इस तरह से आप किसी भी पोस्ट को redirect करवा सकते हैं। दोस्तों, अब मैं आपको  करने के फायदे बताने वाली हूं कि आखिर पोस्ट को Custom redirect करने से हम क्या फायदा मिलता है।


Custom redirect karne ke fayde


Custom redirect करने से हमे बहुत ज्यादा फायदा होता है जब हम किसी पोस्ट को दूसरे पोस्ट के साथ redirect करते हैं तो ट्रैफिक loss नहीं होता है। 


आप जिस पोस्ट के URL को दूसरे post से redirect करते हैं तो पहले पोस्ट पर का ट्रैफिक दूसरी पोस्ट के ट्रैफिक में जुड़ जाता है जिससे हम error से भी बच जाते हैं और हमें ट्रैफिक का loss नहीं होता है।



जैसे मान लेते हैं कि मैंने ब्लॉगर ब्लॉग में कस्टम रीडायरेक्ट कैसे करें यह आर्टिकल डिलीट कर दिया है जो गूगल सर्च इंजन में आता था अब जब भी यूजर्स उस डिलीट किए हुए पोस्ट पर क्लिक करेंगे तो 404 का error आएगा उसके बाद यूज़र back करके दूसरे वेबसाइट के URL पर जाएंगे इससे seo पर बहुत खराब प्रभाव पड़ता है।


 इसके लिए आप ब्लॉगर ब्लॉग में custom redirect कैसे करें के URL को किसी भी आप अपनी वेबसाइट के दूसरे पोस्ट के URL से चेंज कर सकते हैं।


जैसे मान मान लेते हैं मैंने blogger में custom domain कैसे add करे एक पोस्ट लिखा और उसके URL पर redirect कर दिया।


 इससे जब भी users डिलीट किए हुए पोस्ट पर क्लिक करेंगे उन्हें 404 का error नहीं आएगा जिस पर आपने redirect किया है उस पोस्ट पर यूजर चले जाएंगे जिससे ट्रैफिक लॉस नहीं होगा।


तो दोस्तों, बस में मैंने आपको ब्लॉक कर पोस्ट में कस्टम नहीं डायरेक्ट करना सिखाया। मुझे उम्मीद है कि आपको इस पोस्ट से जानकारी मिली होगी। अगर आपके मन में इस पोस्ट से संबंधित कोई भी प्रश्न हो तो आप मुझे कमेंट करके जरूर बताएं।


 मैं पूरी कोशिश करूंगी कि आपके सवालों का जवाब नहीं सकूं। अगर आपको यह पोस्ट अच्छा लगा तो शेयर जरूर करें।

धन्यवाद।

Also read :- खाली पेट चना खाना से क्या फायदा होता है?

Post a Comment

0 Comments