Website me auto ads kaise lagaen? Auto Ads ke fayde?

 हैलो दोस्तों, आज के आर्टिकल में मैं आपको वेबसाइट में Google AdSense का auto ads लगाने का तरीका बताने वाली हूं और इसके साथ ही हो तो auto ads  के फायदे को भी बताने वाली हूं। अगर आप अपनी वेबसाइट में ऐडसेंस का auto ads लगाना चाहते हैं तो इस article को जरूर पढ़ें।


Google AdSense ka Auto Ads kya hai?


आप अपनी वेबसाइट में display ads, in feeds ads, in article ads या auto Ads/विज्ञापन भी लगा सकते हैं।

 गूगल ऐडसेंस का auto ads लगाने से ads automatic हमारी वेबसाइट में show करने लगता है परंतु manual ads में हम अपने अनुसार अपनी वेबसाइट पर विज्ञापन लगाते हैं।

Website me auto ads kaise lagaen? Auto Ads ke fayde?


 Auto ads में गूगल Post के अनुसार best place पर Ads/ विज्ञापन दिखाता है जिससे अच्छी earning/ कमाई होती है।


Website me auto ads kaise lagaen?


अपनी वेबसाइट में Auto ads लगाने के लिए आपको नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होगा:-


1. गूगल ऐडसेंस account open करें।


सबसे पहले आपको अपना गूगल ऐडसेंस अकाउंट open कर लेना है| Open करने पर आपको Home, Ads, sites, reports, optimisation, payment, account इत्यादि लिखा मिलेगा।


2. Ads के ऑप्शन पर क्लिक करें।


3. Ads के overview पर क्लिक करें।


Overview पर क्लिक करने के बाद आपको और उसके नीचे Get Google place Ads for you लिखा मिलेगा।


4. Get code पर क्लिक करें।


Let Google place Ads for you के ठीक नीचे आपको Add one piece of code to your site and Google will automatically show ads in all the best places लिखा मिलेगा और उसके नीचे Get code लिखा मिलेगा। 


Auto ads लगाने के लिए आपको Get code पर क्लिक कर देना है।


5. Copy code snippet पर क्लिक करें।


Gate code पर क्लिक करने के बाद एक नया इंटरफेस ओपन हो जाएगा जिसमें आपको code मिल जाएगा. आप चाहे तो code ko कॉपी कर सकते हैं या Copy code snippet पर क्लिक कर सकते हैं। 


उसके ठीक नीचे आपको done लिखा मिलेगा आपको उसपर क्लिक कर देना है।


6. Blogger का डैशबोर्ड open करें।


Blogger का डैशबोर्ड open करने पर आपको Post, stats, comments earnings theme layout setting, reading list, लिखा मिलेगा।


7. Theme पर क्लिक करें।


8. Edit html पर क्लिक करें।


9. <head> पर क्लिक करें।


Theme पर क्लिक करने के बाद आपको edit html में पर क्लिक कर देना है और theme me <head> सर्च कर लेना है। उसके ठीक नीचे copy kiye गए कोड को पेस्ट कर देना है।


10. Save पर क्लिक करें।


11. फिर से गूगल ऐडसेंस अकाउंट open करें।


Save पर क्लिक करने के बाद आपको फिर से अपना गूगल ऐडसेंस account open कर लेना है।


12. Ads ke Overview पर क्लिक करें.


 Overview पर क्लिक करने पर आपको All your sites लिखा मिलेगा और उसके ठीक नीचे वेबसाइट नेम के column में पेंसिल  का सिंबल मिलेगा।  


13. पेंसिल के सिंबल पर क्लिक कर देना है।


पेंसिल के सिंबल पर क्लिक करने के बाद एक नया इंटरफ़ेस Open हो जाएगा जिसमें auto ads, ad formats, ad load, etc लिखा मिलेगा।

14. Auto ads को on करें।

आपको auto ads जो off होगा उसे on कर देना है।


15. In- page ads को on करें।

अगर आप अपनी वेबसाइट के कंटेंट पेज में Auto ads शो करना चाहते हैं तो in page ads को जरूर को enable / On करें।


16. Matched content को On करें।


 यदि आप अपनी वेबसाइट के पोस्ट से संबंधित हैं ads/ विज्ञापन दिखाना चाहते हैं तो इसे On करें। इसको On करने से कमाई अच्छी होती है। 



यूजर पोस्ट को पढ़ने के साथ-साथ ads के द्वारा वीडियो भी देख लेते हैं जिससे क्लिक होने का chances बढ़ जाता है इसलिए इसे जरूर enable करें।


 17. In feeds ads को on करें।

In feeds ads वह ad होता है जो वेबसाइट के open होने पर स्क्रीन के top पर continue show होता है। यदि आप इसे वेबसाइट पर show कराना चाहते हैं तो इसे जरूर On करें। 

Website me auto ads kaise lagaen? Auto Ads ke fayde?


18. Vignette ads को on करें।


Vignette ads वह ad होता है जो full स्क्रीन पर शो होता है। जब यूजर पोस्ट को read करते रहते हैं और उसके दौरान उसी वेबसाइट के another पोस्ट के लिंक पर क्लिक करते हैं तो उस बीच में जो ऐड शो होता है उसे ही Vignette ad कहा जाता हैं।

इसे जरूर On करें ताकि earning अच्छी हो सके।


19. Wide screen को On करें।


 Wide screen ad 1000px से ज्यादा चौड़ी स्क्रीन पर दिखाई देती है। 

Wide screen ad को शो करने के लिए आप इसे On कर सकते हैं। 


20. Ad load को increase करें। 


Ad load के द्वारा आप अपनी वेबसाइट पर ad की संख्या को कम या ज्यादा कर सकते हैं। 


21. Ad load के arrow पर क्लिक करें।

Ad load पर क्लिक करने के बाद आपको control the number of ads you show in your page लिखा मिलेगा।


 उसके ठीक नीचे एक लाइन होगा जिसमे minimum और maximum पहले से लिखा होगा वह लाइन 50% पर होगा आपको 75 % पर्सेंट पर ले आना है।


22. Apply to site पर क्लिक करें.

सभी ad को शो होने में 10 से 15 मिनट तक का समय लग जाता है इसलिए घबराएं नहीं थोड़ी देर बाद अपनी वेबसाइट में auto ads शो होने लगेगा। 


Refresh करके अपने मोबाइल में भी check कर सकते हैं Auto ads शो होने लगेगा।


इस तरह से आप अपनी वेबसाइट मैं ऑटो ऐड्स आसानी से लगा सकते हैं।


Auto ads ke fayde


Auto ads के निम्नलिखित फायदे हैं:-


1. Auto ads on करने से ads का placement Google खुद best place पर show करता है। इसमें गूगल आपने अनुसार विज्ञापन दिखाता है।


2. Auto ads हमारा काफी समय बचाता है।

जब किसी newly blogger को गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल मिलता है तो अधिकतर ब्लॉगर confuse रहते हैं कि auto ads लगाए या manual ads।

और दोस्तों इस दौरान हमारा काफी समय बर्बाद हो जाता है।

 Auto ads में एक बार कोड हम html में डाल देते हैं जिससे हमारा काफी समय बर्बाद होने से बच जाता है।


3. Auto ads लगाने से आप अपने कंटेंट पर ज्यादा फोकस कर सकते हैं।


जैसा कि मैंने आपको बताया कि न्यूली ब्लॉगर बहुत ही कंफ्यूज रहते हैं auto ads और manual ads में।


 दोस्तों, Auto Ads से काफी अच्छी earning होती है। Auto Ads हमारी वेबसाइट के पेज को analyze करके layout, content के अनुसार best place पर विज्ञापन शो करता है। जिससे लोग ज्यादा ads पर क्लिक करते हैं और कमाई earning बढ़ती है।


4. Auto ads लगाना काफी आसान होता है।

Auto ads को इस्तेमाल करने के लिए हमें कुछ विशेष सेटिंग नहीं करनी पड़ती है बस एक बार आपको code copy and पेस्ट कर देना है जिसे मैंने ऊपर बताया है और manual ads में बारी - बारी से सब जगह ads लगाना होता है।



Auto ads aur manual ads me kya antar hai?


1. Auto ads लगाने के लिए theme में कोड पेस्ट करें और  manual ads लगाने के लिए layout में code paste करें।


Auto ads में आपको एक बार code को कॉपी करके Theme के html में <head> के नीचे पेस्ट करना होता है और मैनुअल ऐड में करके लेआउट में पेस्ट करना होता है।


2. Auto Ads में बस एक बार कोड पेस्ट करते हैं और manual ads में कई बार paste करते हैं।

 Auto Ads On करने पर एक जगह कोड को paste करना होता है और manual ads में सभी जगह के लिए बारी - बारी से code को पेस्ट करना होता है जहां AdSense code paste करेंगे वहीं Ads यानी विज्ञापन दिखेगा।


3. Auto ads में automatically beat place पर Ads शो होता है और manual ads  में जहां हम code का placement करते हैं सिर्फ वही show होता है।


4. Auto ads में ads format में Ads की संख्या को कम या ज्यादा भी कर सकते हैं और वहीं दूसरी ओर manual ads में आप खुद से Ad code को वेबसाइट से remove या paste कर सकते हैं।


5. Auto ads में अलग-अलग जगह पर automatically ( In page ads, matched ads, wide screen, veginnte ads) Ads show करता है। वहीं दूसरी ओर मैनुअल एड्स में vignette ads नहीं शो करता है।


6. Auto ads से आप अच्छी earning कर सकते हैं और manual ads से भी earning कर सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments